Monday, 20 January 2014

अध्यात्म के अद्भुत प्रयोग / Wonderful use of spirituality- thought

अध्यात्म के अद्भुत प्रयोग : 
गहन _स्व के स्वभाव में घिरे व्यक्ति को , उसी के स्व स्वरुप में स्थिर करा के उसको उसके स्व के दर्शन कराना और उस स्व के दर्शन मात्र से उसका सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड से एकाकार हो जाना । अद्भुत है विलक्षण है। पर अति सत्य है , वास्तविक अध्यात्मिक साधना के उच्च कोटि के सकारात्मक परिणाम देखे गए है। और ध्यान ....  इसी सकारात्मक आत्मदर्शन की प्रथम सीढ़ी है। 


Wonderful use of spirituality:
_ Steeped in intensive nature of the individual self, beautifully the self stabilized with him to get to his approach to self awareness and the mere sight of him self to merge with the entire universe. Amazing prodigy it is . This is the truth, the real spiritual practice has seen the positive results of high quality of Self Awareness In person . And Meditation is the first ladder of Positive-self_re
alization

No comments:

Post a comment